Breaking News
Home / ग़ाज़ीपुर / आतंकवाद और नक्सलवाद की जननी है बेरोजगारी- जमाल खान

आतंकवाद और नक्सलवाद की जननी है बेरोजगारी- जमाल खान

गाजीपुर। जिला पंचायत सदस्‍य जमाल खान ने बताया कि आतंकवाद और नक्‍सलवाद की जननी है बेरोजगारी। बेरोजगारी से बेहाल युवक आरजक तत्‍वों के झासें में आकर वह भ्रमित हो जाता है और देश व समाज विरोधी कार्यो में संलिप्‍त हो जाता है। खान ने बताया कि जब पढ़लिख कर आज का नौजवान नौकरी के तलाश में इधर-उधर भटकता है। वर्षो तक ठोकर खाने के बाद उसे काम नही मिलता है और उसकी जरुरत की चीजों के लिए वह मोहताज हो जाता है। समाज व परिवार के व्‍यंग से वह अपना विवेक खो देता है और अराजक तत्‍वों के बहकावे में आकर गलत रास्‍ते पर चलने लगता है। उन्‍होने बताया कि मोदी और योगी सरकार नौजवानों को रोजगार देने में असफल रही है। भाजपा सरकार ने छोटे उद्योग और रोजगारपरक कामों को बंद करना शुरु कर दिया है जिससे चलते लाखो नौजवान बेरोजगार हो गये हैं। खनन के नाम पर बालू व मिट्टी तथा अन्‍य चीजों पर रोक लगाकर रियल स्‍टेट व विकस कार्य एकदम बंद हो गये हैं। जिसके चलते बेरोजगारी और बढ़ी है। यही हाल रहा तो देश में आने वाले दिनों में बहुत ही विस्‍फोटक स्‍थिति हो जायेगी। भुखमरी के कगार पर खड़ा नौजवान कुछ भी करने के लिए तैयार हो जायेगा। उन्‍होने प्रधानमंत्री और मुख्‍यमंत्री से मांग किया है कि रोजगार परक योजनाएं चलाये जिससे नौजवानों को रोजी रोटी मिल सके।

About admin

Check Also

गंगा सुरक्षा समिति के सदस्य बनाये गये अमरनाथ तिवारी

गाजीपुर। भारत सरकार की महत्वकांक्षी योजना के तहत गंगा के निर्मलकरण अभियान के अंतर्गत सभी …