Breaking News
Home / ग़ाज़ीपुर / आमदनी चवन्नी खर्चा रुपैया, यह है भारतीय किसान की हालत- अफजाल अंसारी

आमदनी चवन्नी खर्चा रुपैया, यह है भारतीय किसान की हालत- अफजाल अंसारी

गाजीपुर। बसपा के वरिष्‍ठ नेता व पूर्व सांसद अफजाल अंसारी ने आम बजट 2018 में किसानों की चर्चा करते हुए कहा कि भाजपा ने दावा किया था कि पांच वर्षो में किसानों की आमदनी दोगुनी कर दी जायेगी। वर्तमान में उसके ठीक विपरित किसानों का फसल खर्च चार गुना बढ़ गया है। अब किसानों की यह हालत हो गयी है कि आमदनी चवन्‍नी खर्चा रुपैया। बसपा नेता ने बताया कि किसानों को फसल के लिए कड़ी मेहनत के साथ-साथ जुताई, बुवाई, सिंचाई की व्‍यवस्‍था तो करनी पड़ती है साथ ही साथ महंगी खाद्य और फसलों का बचाव करने के लिए महंगी दवाओं का छिड़काव करता है। इन सब के बावजूद प्रकृति की कृपा और किस्‍मत पर भारतीय किसान को निर्भर रहना पड़ता है। यदि फसल पैदा भी हो गयी तो फिर बाजार मूल्‍य सरकार की गलत नीतियों के कारण इस कदर ध्‍वस्‍त हो जाता है कि कर्ज में डूबे किसान आत्‍महत्‍या करने पर मजबूर हो जाते हैं। पिछले वर्ष आलू, प्‍याज एवं मसूर, अरहर, दलहन की पैदावार का बाजार मूल्‍य रिकार्ड नीचे गिर गया। दूसरी तरफ यह सरकार भ्रष्‍टाचार को समाप्‍त करने का नारा व भरोसा देकर जनता से वोट लेने में कामयाब रही। उन्‍होने बताया कि अपने चार वर्षो के कार्यकाल में मोदी सरकार ने किसान की आमदनी न बढ़ा कर फसलों की लागत को चारगुना कर दिया है। दूसरी तरफ भ्रष्‍टाचार में लिप्‍त सरकारी तंत्र की आमदनी दस गुना बढ़ गयी है। योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री ने इस सच्‍चाई को स्‍वीकार करते हुए कहा कि जो काम पहले थानों में पांच सौ रुपये देकर होता था अब वही पांच हजार रुपये देने पर हो रहा है। मोदी सरकार की किसानों के प्रति नियत साफ नही है। परम्‍परागत खेती की उपज धान, गेंहू व गन्‍ना का समर्थन मूल्‍य सरकार घोषित करती है। लेकिन चना, मसूर, अरहर, आलू, टमाटर आदि फसलों को कोई समर्थन मूल्‍य निश्चित नही होता है। जब किसान आलू पैदा करता है तो आलू का मूल्‍य दो रुपया, प्‍याज पांच रुपये किलो बेचने पर मजबूर कर दिया जाता है और जब साहूकार किसान की पैदावार खरीद कर अपने गोदाम में भर लेंगे तब वही आलू 15 से 20 रुपया और प्‍याज 40 से 50 रुपया किलो बाजार मं बिकने लगेगा। पूर्व सांसद ने बताया कि सरकार की दोगली नीतियों के कारण किसान बर्बाद हो रहे हैं तो दूसरी तरफ देश की आम जनता महंगाई की मार झेल रहा है। बड़े-बड़े उद्योगपति अंबानी, अडानी, बाबा रामदेव और अमित शाह की बेटे की कमाई हजार गुना बढ़ गयी है।

About admin

Check Also

गंगा सुरक्षा समिति के सदस्य बनाये गये अमरनाथ तिवारी

गाजीपुर। भारत सरकार की महत्वकांक्षी योजना के तहत गंगा के निर्मलकरण अभियान के अंतर्गत सभी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *