Breaking News
Home / ग़ाज़ीपुर / सुव्यवस्थित व संस्कारित जीवन जीने का सर्वोत्तम माध्यम है कला- डा. गजाधर गंगेश

सुव्यवस्थित व संस्कारित जीवन जीने का सर्वोत्तम माध्यम है कला- डा. गजाधर गंगेश

गाजीपुर। राजकीय महिला पीजी कालेज के सभागार में दो दिवसीय कला प्रदर्शनी का आयोजन रविवार को किया गया। जिसमे लगभग 100 चित्रकारों के चित्र व मूर्तिशिल्‍प स्‍टालेशन प्रदर्शित हुए। प्रदर्शनी का उद्घाटन विद्यालय की प्राचार्या प्रो. सरिता भारद्वाज ने किया। प्रदर्शनी का अवलोकन डा. गजाधर प्रसाद शर्मा गंगेश, प्रो. रामप्रकाश कुशवाहा, डा. दीप्ति सिंह, डा. राजकुमार सिंह, डा. सूर्यनाथ पांडेय, वयासमुनि राय, राजकुमार गुप्‍ता, संतन के राम, सविका आब्‍दी ने किया। कलाकारों ने अपने चित्रों के माध्‍यम से इन विषयों पर समाज को एक सुधारात्‍मक दिशा देने का प्रेरणादायी कार्य किया। इस मौके पर डा. गजाधर शर्मा गंगेश ने कहा कि कला सदभावपूर्ण वातावरण में सुव्‍यवस्थित व संस्‍कारित जीवन जीने का सर्वोत्‍तम माध्‍यम है। समाज का यदि हर व्‍यक्ति सच्‍चे अर्थो में कलाकार बन जाये तो भेदभाव की सारी दिवारे धाराशाही हो जायेंगी। सभी लोग एक गुलदस्‍ते की तरह तेज व समाज के लिए आकर्षक का केंद्र बन जायेंगे।

About admin

Check Also

गंगा सुरक्षा समिति के सदस्य बनाये गये अमरनाथ तिवारी

गाजीपुर। भारत सरकार की महत्वकांक्षी योजना के तहत गंगा के निर्मलकरण अभियान के अंतर्गत सभी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *