Breaking News
Home » ग़ाज़ीपुर » मेहनती शिष्यों के प्रेरणाश्रोत हैं वीर एकलव्य – डा. विरेंद्र यादव

मेहनती शिष्यों के प्रेरणाश्रोत हैं वीर एकलव्य – डा. विरेंद्र यादव

गाजीपुर। प्रतियोगिता में प्रतिभागी हुए मेधावी छात्र-छात्राओं के सम्मान का कार्यक्रम तलवल पावर हाउस, फूलन देवी व वीर एकलव्य की मूर्ति के स्थान पर आयोजित किया गया। आये हुए अतिथि के द्वारा दोनो प्रतिमाओं पर माल्यार्पण करके श्रद्धांजलि अर्पित किया गया। इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि मशहूर उद्योगपति व बिन्द समाज कल्याण संघ के राष्ट्रिय अध्यक्ष राजेन्द्र बिन्द सहित विशिष्ट अतिथि के रूप में विधायक विरेन्द्र यादव, पूर्व विधायक व मंत्री चौधरी लालता निषाद, पूर्व विधान परिषद सदस्य बाबू लाल बलवंत, बिन्दु बाला बिन्द उपस्थित हुए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजेन्द्र बिन्द ने कहा कि आज वीर एकलव्य की जयंती पर मेधावी छात्र-छात्राओं का सम्मान इस बात का संकेत है कि इस सम्मान के बाद सभी छात्र अपने भविष्य को अपनी पढाई के बल पर उचाईयो तक ले जायेगे जैसे वीर एकलव्य अपने आप को गुरु द्रोणाचार्य की प्रतिमा के पास अभ्यास करके अपने आपको कुशल धनुधर बना डाले थे। वीर एकलव्य के कुशल धनुधर बनने के बाद द्वेष और जलन की भावना के चलते गुरु द्रोणाचार्य ने अपने शिष्य अर्जुन को आगे करने के लिए गुरु दक्षिणा के रूप में वीर एकलव्य का दाहिना अंगूठा मांग लिए थे जो गुरु द्रोणाचार्य के यह किया हुआ कृत एक गरीब के शोषित वंचित बालक के साथ नाइंसाफ़ी सहित उगती हुई अच्छी व बेसुमार प्रतिभा को दबाने की मानसिकता को दर्शाता है लेकिन ऐसा अब नहीं हो रहा है और आगे भी नहीं होगा क्योकि समाज के लोग जाग चुके है इसलिए आप लोगो से मै आह्वान करता हु कि बिना किसी रुकावट व चिंता के आगे बढ़िये क्योकि आप लोग इस देश के भविष्य है, आन मान व शान है। यह कार्यक्रम समाज को जागरूक करने का काम कर रहा है इसलिए कार्यक्रम के आयोजक दीनबंधु बिन्द को बधाई देते हुए हर साल पुरे जोर शोर से वीर एकलव्य कि जयंती का आयोजन करने की बात कहे। इस कार्यक्रम में दो बडा पंखा, दो लाइटर, दो बडी डिक्शनरी, बीस दीवाल घड़ी, छः छोटी डिक्शनरी, 30 बैग, मेडल व प्रमाण पत्र के साथ कुल 60 मेधावी छात्र-छात्राओ को मुख्य अतिथि के हाथो से पुरस्कार वितरण कर सम्मानित किया गया। मेधावी छात्र-छात्राओ में प्रथम स्थान सुनीता बिन्द पुत्री कालिका बिन्द, द्वितीय स्थान राजकुमार पाण्डेय पुत्र प्रभाकर पाण्डेय व तृतीय स्थान नेहा कुमारी पुत्री हरिश्चन्द्र अव्वल रहे। विधायक विरेन्द्र यादव ने कहा कि वीर एकलव्य की मूर्ति विधार्थीयो  को पढ़ने लिखने की प्रेरणा देती है जिसे हर विधार्थीयो को अनुसरण करना चाहिए। यह गाजीपुर की धरती शहीदों व वीरों की धरती है। जैसे मौसम अपने चक्रानुसार के तहत बदलता रहता है वैसे ही समाज को अपने भलाई के प्राथमिकता के तहत काम करना होगा। पूर्व विधायक चौधरी लालता प्रसाद ने कहा कि सकारात्मक सोच समाज को एक नयी दिशा दे सकती है जो समाज के उत्थान के लिए बेहतर होगा। पूर्व विधान परिषद सदस्य बाबू लाल बलवंत ने कहा कि इस देश में समता मूलक का राज कायम है जिस दिन से केवट समुदाय के लोग जाग जायेगे तो उसी दिन से मछुआ समुदाय सत्ता पर काबिज हो जायेगा क्योकि हर जगह केवट बहुसंख्यक है। केवट/मछुआ समुदाय के लोग किसी के बहकावे मे ना आकर समाज को मजबूत करने का काम करें। बिन्दु बाला बिन्द ने कहा कि अपनी मेहनत को सफलता के मुकाम तक पहुचाइए अपनी सामर्थ्य खुद बनाइये, अपनी तारीफ खुद करिये, बुराई करने के लिए तो पूरा जमाना बैठा है। जिन लोगो की नजरो में बुरे है आप कह दो उन्हें कि मै नेत्र दान कर सकता हूं। अपनी आस पास के परिवेश में केवल उन्ही लोगो को प्रविष्ट होने की अनुमति दीजिये जो सकारात्मक हो, विचारात्मक हो, ऊंची सोच रखने वाला हो, सही दिशा निर्देश देने वाले हो, अन्यथा आपके मष्तिष्क में क्रोध ईष्या और द्वेष के रसायनिक दुष्प्रभाव दिखने लगेंगे जो आपकी सोने की थाली में पीतल की मेख जैसे अशोभनीय लगेंगे इसलिए सिद्धान्तवादी बनिये। डा. जीसी कश्यप, परशुराम बिन्द, दुर्गविजय, शिवपूजन यादव आदि लोगों ने सभा को संबोधित किये। कार्यक्रम की अध्यक्षता अशोक बिन्द व संचालन मुसाफिर बिन्द ने किया।  इस मौके पर 60 मेधावी छात्र-छात्राऐ सहित राजेश, सुरेश बिन्द, शिवपूजन यादव आदि सहित सैकड़ो की संख्या में लोग मौजूद थे।

About admin

Check Also

एसपी ने 15 उप निरीक्षकों को किया इधर से उधर

गाजीपुर। पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा ने मंगलवार की देर रात 15 उप निरीक्षकों का फेरबदल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *