Breaking News
Home » ग़ाज़ीपुर » रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने सत्य के बाण से असत्य का किया दहन

रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने सत्य के बाण से असत्य का किया दहन

गाजीपुर। लंका मैदान में ऐतिहासिक रामलीला में शनिवार को रावणवध, विजयादशमी, धुम-धाम के साथ मनाया गया एवं रावण के पुतले को रेल राज्य मंत्री एवं दूर संचार के मंत्री प्रभार के द्वारा रावण के पुतले में देर सामं लगभग 8 बजे पुतले में आग लगाई गई। उपस्थित श्रद्धालुओं ने रावण के जलते ही हर हर महादेव एवं जय श्री राम के नारों से जन समूहो ने पूरे रामलीला स्थल को गुंजायमान कर दिया अति प्राचीन रामलीला कमेटी हरिशंकरी की ओर से स्थानीय रामलीला स्थल लंका के मैदान में रामलीला के दौरान बुराईयों पर विजय प्राप्त को ध्यान में रखते हुए रावण वध विजयादशमी से संबन्धित ऐतिहासिक आयोजन संपन्न किया गया। जिसको देखकर मैदान मे उपस्थित जनसमूहो को एक बारी सोचने पर मजबुर कर दिया। बताते चले लंका नरेश महाराज रावण अपने पूरे परिवार की मौत सुनकर क्रोध एवं अहंकार में चुर होकर चतुरंगीणी सेना के साथ रथ पर सवार हो करके युद्ध भुमि के लिए चल देता है वहां पहुंचकर श्री राम लक्ष्मण को युद्ध के लिए ललकारते हुए कहा कि दोनो बनवासी कहा है आज रावण उन्हे मौत के नींद सुलाने के लिए युद्ध भुमि पर आ गया है अगर खुन में क्षत्रित्व है तो सामने आकर युद्ध कर अन्यथा अयोध्या के लिए वापस चला जा। इतना सुनते ही श्री राम क्रोध में आकर अपने वानरी सेना के साथ एवं देवराज इन्द्र के द्वारा दिए गये विजय रथ पर सवार होकर रावण से युद्ध करने के लिए चल युद्ध भुमि पर चल देते है। एक तरफ असुरों का दल एवं वानरी सेना इत रावण उत राम दोहाई जयति जयति जय परि लड़ाई यह कहते हुए दोनो एक दूसरे पर भिड़ गये। यु द्ध के दौरान आसुरी शक्तियों पर वानरी सेना प्रहार करने लगी। कितने वानरी सेनाओ आसुरी सेनाओं की मौत हो गयी। कितने घायल हो गये। घमासान युद्ध छिड़ गया। दूसरी तरफ श्री राम रावण द्वारा तीक्ष्ण बाणों का बौछोर शुरू हो गया। जब प्रभु श्री राम ने तीसवां बाण छोड़े बावजूद इसके रावण धरासायी नही हुआ तो श्री राम सोच में पड़ जाते है तब विभिषण श्री राम के निकट आ करके उनके कानो में कहते है कि प्रभु ये ब्रम्हा जी को प्रसन्न करके अमरत्व मांग लिया इसलिए यह अमर हैं। अगर आप अग्नि वाण साध कर इसके नाभि में छोड़ेगे तब यह मर सकता है प्रभु ने ऐसा ही किया अग्नि वाण को आवाहन कर अग्नि वाण को रावण के नाभि में श्री राम छोड़ते है तब वह हे राम कहते हुए धरती पर गिरता है उसके गिरते ही सारी घरती कांप उठती है। लीला के दौरान स्थानीय लंका परिसर में लगभग 70 फूट ऊंचा रावण के पूतले को अति प्राचीन रामलीला कमेटी हरिशांकरी के मुख्य संरक्षक जिलाधिकारी के बालाजी एवं सहसंरक्षक पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा के उपस्थिति में मनोज सिन्हा रेल राज्य मंत्री एवं दूरसंचार राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार के द्वारा लगभग 8 बजे बटन दबाकर पुतले को जलाया गया। इस दृश्य को देखते हुए लंका मैदान में उपस्थित जन सैलाब हर हर महादेव एवं जय श्री राम का उद्घोश करते हुए पुरा लीला मैदान राम मय बना दिया। इस अवसर पर कमेटी के महामंत्री ओम प्रकाश तिवारी ने रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा सहित सभी प्रशासनिक अधिकारियों, मिडिया कर्मियों विभाग को कोटिष्च् धन्यवाद् ज्ञापित करते हुए कहा पूर्वांचल का ऐतिहासिक रामलीला सम्पन्न कराने हेतु आप सभी लोगो ने अथक प्रयास के साथ सहयोग किया इसके लिए आप सभी लोगो को अति प्राचीन रामलीला कमेटी हरिषंकरी की ओर से साधुवाद एवं धन्यवाद देता हॅू और आगे भी उम्मीद करता हूं इसी तरह आप लोग कमेटी के आयोजन को सकुशल संपादित कराते रहेंगे।  इस मौके पर-अध्यक्ष  दीनानाथ गुप्ता, उपाध्यक्ष प्रकाशचन्द्र श्रीवास्तव, मंत्री ओम प्रकाश तिवारी (बच्चा), सयुक्त मंत्री लक्ष्मी नारायण, उपमंत्री पं0 लव कुमार त्रिवेदी, मेला व्यवस्थापक (कार्यकारी) बीरेष राम वर्मा, उपमेला व्यवस्थापक शिवपूजन तिवारी (पहवान), कार्यकारिणी सदस्य-.राम नारायण पाण्डेय, राजेश प्रसाद, बांके तिवारी, ओम नाराणय सैनी, अशोक कुमार अग्रवाल, योगेश कुमार वर्मा, ऋषि चतुर्वेदी, राजेन्द्र विक्रम सिंह, अजय पाठक, सुधीर कुमार अग्रवाल, प्रदीप कुमार उपाध्याय कृष्‍णांश त्रिवेदी, अजय कुमार अग्रवाल कृष्‍ण बिहारी त्रिवेदी सावित्री देवी उपाध्याय एवं गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

About admin

Check Also

पवित्र डर मनुष्य को हमेशा शिखर पर ले जाती है- फादर पी विक्टर

गाजीपुर/बाराचंवर। क्षेत्र के हार्टमन इण्टर  कालेज हार्टमनपुर, ग़ाज़ीपुर में शनिवार को प्रधानाचार्य फादर पी विक्टर …