Breaking News
Home » अपराध » छात्राओं के उग्र प्रदर्शन में बाल-बाल बचें जिला विद्यालय निरीक्षक व प्रधानाचार्या, लिपिक सहित दो घायल

छात्राओं के उग्र प्रदर्शन में बाल-बाल बचें जिला विद्यालय निरीक्षक व प्रधानाचार्या, लिपिक सहित दो घायल

गाजीपुर। राजकीय बालिका इंटर कालेज मुहम्‍मदाबाद के छात्राओं ने प्रधानाचार्या को लेकर मंगलवार को जमकर बवाल काटा। छात्राओं के उग्र प्रदर्शन में कालेज का एक लिपिक गंभीर रुप से घायल हो गया जबकि जिला विद्यालय निरीक्षक नरेंद्र देव व प्रधानाचार्या सीमा देवी को भी चोटें आयीं हैं। प्राप्‍त जानकारी के अनुसार आज सुबह स्‍कूल खुलते ही छात्राओं ने प्रधानाचार्या के खिलाफ अभद्र व्‍यवहार व भ्रष्‍टाचार का आरोप लगाते हुए जमकर प्रदर्शन करने लगी। छात्राओं के उग्र प्रदर्शन से आस-पास के मुहल्‍लेवासी भी इकट्ठा हो गये। कालेज में उग्र प्रदर्शन की खबर मिलते ही एसडीएम शिवप्रसाद व कोतवाल विमल कुमार मिश्रा अपने दल-बल के साथ मौके पर पहुंच गये। छात्राओं को समझा-बुझाकर भीड़ को लाठी से खदेड़कर भगाया। प्रधानाचार्या व लिपिक मेराज को पुलिस जीप में बैठाकर थाने ले आयी। इस घटना की खबर लगते ही जिला विद्यालय निरीक्षक नरेंद्र देव कोतवाली मुहम्‍मदाबाद पहुंच गये। कोतवाली में प्रधानाचार्या ने बताया कि कुछ दिन पहले हमने कालेज में संविदा पर कार्यरत एक महिला शिक्षक व एक पुरुष शिक्षक के खिलाफ शिकायत लिखकर उन्‍हे हटाने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक से मांग किया था। उन्‍ही दोनों शिक्षकों के साजिश से यह हंगामा हुआ है। इसके बाद जिला विद्यालय निरीक्षक नरेंद्र देव ने कोतवाली से प्रधानाचार्या व लिपिक को लेकर पुन: कालेज पर पहुंच गये और संदेशा देकर छात्राओं और आस-पास के लोगों को बुलाया। दोनों पक्षों में वार्ता होने लगी। वार्ता धीरे-धीरे उग्र रुप में बदल गया। छात्राओं ने प्रिंसिपल, लिपिक, अधिकारियों पर धाबा बोल दिया। छात्राओं के हमले से लिपिक मेराज व उसका भाई गंभीर रुप से घायल हो गया। किसी तरह से जिला विद्यालय निरीक्षक व प्रधानाचार्या को बचाया गया और उन्‍हे जीप में बैठाकर वापस जिला मुख्‍यालय भेज दिया गया।

About admin

Check Also

गरीबों और किसानों के मसीहा थें कामरेड सरजू पांडेय

कासिमाबाद। महान स्वाधीनता सेनानी पूर्व सांसद एमएलसी तथा मेहनतकश आवाम के नेता कामरेड स्वर्गीय सरयू …