Breaking News
Home » अपराध » दबंगों ने घर में घुसकर बच्चों सहित 15 लोगों को पीटा

दबंगों ने घर में घुसकर बच्चों सहित 15 लोगों को पीटा

सैदपुर। थाना क्षेत्र के रामचरनपुर खैरा में रविवार की देरशाम करीब सात बजे किसी पुराने विवाद को लेकर नशे में धुत युवकों ने अपने साथियों संग घर में घुसकर छह परिवार के बच्चे व वृद्धा समेत करीब 15 लोगों को जमकर मारा पीटा। घटना में जहां जहां उन्होंने वृद्धा का हाथ तोड़ दिया वहीं एक अन्य महिला का हाथ तोड़कर सिर फोड़ दिया। सूचना पर रात में मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी पीड़ितों को इलाज कराया। दोनों पक्षों से मुकदमा कायम कराया गया है। रामचरनपुर के बड़ी नोनियान बस्ती के सुफेर चैहान व ठकुरहन बस्ती के सुनील सिंह के बीच विवाद चल रहा था। सोमवार की शाम करीब सात बजे नशे में धुत होकर दो युवक सुफेर के घर के बाहर पहुंचे और वहां खेत में काम कर रही गुड्डू चैहान की पत्नी को गाली देने लगे। कोई प्रतिक्रिया न मिलने पर वो वापस चले गए। इसके कुछ देरबाद वो एक अन्य युवक संग वहां आए और अपने साथ लाए हाॅकी, डंडा, फरसा आदि से कुर्सी, खाट व घर का अन्य सामान काटने तोड़ने लगे। इस पर घर में मौजूद महिलाओं ने प्रतिरोध किया तो वो उन पर पिल पड़े। जवाब में उन्होंने भी मारना पीटना शुरू किया तो उनमें से एक अन्य युवक ने फोन कर और साथियों को बुला लिया और वो सभी उन पर टूट पड़े। घटना में सुफेर चैहान 77 के अलावा उनकी पत्नी शकुंतला 60, उनके पुत्र कृष्ण कुमार 45, लाली देवी 55 पत्नी राजेंद्र चैहान, मटरू चैहान 32, उनकी पत्नी इंदू देवी 25, सतीश चंद्र 10 पुत्र संतोष चैहान, सुमित्रा चैहान 35 पत्नी राजेश चैहान, श्वेता चैहान 13 पुत्री संतोष चैहान, शिवरात्री देवी 30 पत्नी बहादुर, पद्मावती 32 पत्नी संतोष चैहान, चंदई देवी 60 पत्नी हरिओम, चांदनी चैहान 18 पुत्री राजकुमार, प्रतिमा कुमारी 16 पुत्री विजयी व सुषमा चैहान 25 पत्नी सदानंद गंभीर रूप से घायल हो गए। हमलावरों ने क्रूरता दिखाते हुए वृद्धा चंद्रदेई व लाली का हाथ तोड़ दिया वहीं चांदनी का सिर फोड़ दिया। इतना ही नहीं 10 वर्ष के मासूम सतीश को भी नहीं छोड़ा और उसे भी जमकर पीटा। घटना में सुफेर, कृष्ण कुमार, लाली, पद्मावती, चंद्रदेई व चांदनी की हालत गंभीर होने पर चिकित्सकों ने उन्हें वाराणसी रेफर कर दिया। वहीं जवाबी हमला में सुनील के पक्ष से आए खुद सुनील सिंह 38, प्रवीण सिंह 23 पुत्र कैलाश सिंह, आलोक सिंह 23 पुत्र अंगद सिंह, निर्मल सिंह 40, अरविंद चैहान 19 पुत्र राजकुमार व सतीराम चैहान भी घायल हो गए। उन्हें भी सीएचसी लाया गया जहां सुनील की हालत गंभीर होने पर उन्हें वाराणसी रेफर कर दिया गया। घटना के बाबत कोतवाल शरदचंद्र त्रिपाठी ने बताया कि मामले में दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा कायम किया गया है। सभी घायलों का अभी इलाज चल रहा है। वहीं मेडिकल की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

About admin

Check Also

मूर्ति विसर्जन के लिए इस वर्ष बनेंगे दो गड्ढे

गाजीपुर। गंगा नदी में मूर्ति विसर्जन के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा लगाई गयी रोक आदेशानुसार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *