Breaking News
Home » अपराध » क्राइम ब्रांच टीम कोतवाली पुलिस पर मेहरबान, 22 मोबाइल के साथ छह गिरफ्तार

क्राइम ब्रांच टीम कोतवाली पुलिस पर मेहरबान, 22 मोबाइल के साथ छह गिरफ्तार

गाजीपुर। क्राइम ब्रांच टीम कोतवाली पुलिस पर मेहरबान बनी हुई है। जिले में 25 थाने और हैं लेकिन पुलिस अधीक्षक के नजर में कोतवाली पुलिस को वाहवाही दिलाने में क्राइम ब्रांच सहयोग कर रही है। पुलिस कहानी के अनुसार सोमवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एसपी सोमेन वर्मा ने प्रेसवार्ता में बताया कि क्राइम ब्रांच व कोतवाली पुलिस संयुक्‍त रुप से तलवल गांव के पास एक बाइक पर सवार तीन बदमाशों के आने की मखबिर के जरीये सूचना मिली। पुलिस टीम ने सोनहरिया मोड़ के पास पहुंचकर घेराबंदी की एक बाइक पर तीन बदमाश आते हुए दिखायी दिये। पुलिस ने जब उन्‍हे रोकने का इशारा किया तो वह बाइक मोड़कर भागना चाहा। लेकिन अनियंत्रित होकर गिर पड़े और पुलिस टीम पकड़ने का प्रयास किया तो एक बदमाश ने पुलिस पर फायर कर दिया। पुलिस टीम बाल-बाल बच गये। पुलिस ने तीनों को दबोच लिया। पूछताछ में उन्‍होने अपना नाम शादियाबाद थाना क्षेत्र के पड़री गांव निवासी शेषनाथ यादव उर्फ चुन्‍नू, खुटवा गांव निवासी पवन यादव तथा नंदगंज थाना क्षेत्र के बरेठी गांव निवासी दीपक यादव बताया। यह तीनों काफी दिनों से नंदगंज व शादियाबाद मार्ग पर आये दिन किसी न किसी का बाइक, मोबाइल व नकदी लूट लेते थे। इनके भय से लोग उस मार्ग पर जाने से डरते थे। इनके पास से एक तमंचा व बाइक बरामद की गयी। इसी क्रम में जमानियां कोतवाली प्रभारी धर्मवीर सिंह को मुखबिर की सूचना मिली कि दो शातिर चोर सामान के साथ दरौली रेलवे स्‍टेशन पर ट्रेन पकड़कर कही जाने की फिराक में खड़े हैं। पुलिस टीम ने मुखबिर द्वारा चोरों की पहचान कराया। पुलिस ने घेराबंदी कर तीन अभियुक्‍तों को पकड़ लिया। पूछताछ में उन्‍होने अपना नाम जमानियां कोतवाली क्षेत्र के देवैथा गांव‍ निवासी मो. फरीन खां, मो. सैफअली खां, मो. बाबर खां बताया। उनके पास से चोरी की 22 मोबाइल, एक लैपटाप बरामद की गयी। जो चोरी के मुकदमे से संबंधित है।

About admin

Check Also

मूर्ति विसर्जन के लिए इस वर्ष बनेंगे दो गड्ढे

गाजीपुर। गंगा नदी में मूर्ति विसर्जन के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा लगाई गयी रोक आदेशानुसार …