Home » ग़ाज़ीपुर » निर्माणाधीन वाराणसी-गाजीपुर-गोरखपुर फोरलेन मार्ग में राजस्व अधिकारी लगा रहे अड़ंगा

निर्माणाधीन वाराणसी-गाजीपुर-गोरखपुर फोरलेन मार्ग में राजस्व अधिकारी लगा रहे अड़ंगा

गाजीपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर से जुड़ने वाले राष्‍ट्रीय राजमार्ग फोरलेन के निर्माण कार्य में जिले के राजस्‍व अधिकारी अड़ंगा अटका रहे हैं। किसानों को मुआवजा देकर कब्‍जा लेने में दो वर्ष का समय खत्‍म हो गया लेकिन अभी तक 30 प्रतिशत जमीनों पर कब्‍जा नही हो पाया है। फोरलेन की कार्यदायी संस्‍था भारतीय राष्‍ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के प्रबंधकों के अनुसार 961 करोड़ रुपया किसानों को मुआवजा देने के लिए दिया गया है। लेकिन अभी तक केवल 370 करोड़ ही मुआवजा बाटा जा सका है। जिसके कारण निर्माणाधीन जमीन पर कब्‍जा नही हो पा रहा है और निर्माण कार्य बुरी तरह से प्रभावित है। प्रबंधकों के अनुसार वाराणसी, गाजीपुर, गोरखपुर राष्‍ट्रीय राजमार्ग को फोरलेन बनाने के लिए केवल 30 माह का समय निर्धारित है। अगर समय से जमीन नही मिली तो निर्माण कार्य प्रभावित होगा। एनएचएआई गोरखपुर परिक्षेत्र के प्रबंधक योगेश तिलक ने पूर्वांचल न्‍यूज डाट काम को बताया कि मटेहूं से हृदयपुर सहित कुल 25 गांवों क मेरा क्षेत्र है। हमने इसके लिए 420 करोड़ रुपया जिला प्रशासन को उपलब्‍ध कराया है। लेकिन अभी तक केवल पांच गांवों में ही कब्‍जा मिला है। जिला प्रशासन ने अभी तक केवल 120 करोड़ रुपया किसानों को मुआवजा बांटा है। कब्‍जा नही मिलने से विकास कार्य प्रभावित है। एनएचएआई वाराणसी परिक्षेत्र के डीआर शर्मा ने बताया कि सिधौना से लेकर हृदयपुर तक कुल 77 गांव हमारे क्षेत्र में हैं। हमने जिला प्रशासन को 541 करोड़ रुपया मुआवजा के लिए दिया है। जिसमे से अभी तक 250 करोड़ रुपया ही खर्च हो पाया है। जिला प्रशासन ने केवल 33 गांवों के किसानों को मुआवजा दिया है। लेकिन जिला प्रशासन ने खेत का मुआवजा दिया है पर मकान आदि का मुआवजा अभी तक नही दिया है। यही वजह है कि पूरी तरह से कब्‍जा नही मिल पा रहा है और निर्माण कार्य बाधित हो रहा है। इस संदर्भ में अपर जिलाधिकारी आनंद शुक्‍ला ने बताया कि मुआवजा पूरी तरह से बाटने में अभी तीन माह का और समय लगेगा। हमे 741 करोड़ रूपया मुआवजा प्राप्‍त हुआ है। जिसमे से 411 करोड़ रुपया मुआवजा बाट दिया गया है।

About admin

Check Also

चांद दिखा, ईद सोमवार को

गाजीपुर। कड़ी पाबंदियों के साथ एक माह की रोजेदारी का इनाम मिलने का वक्त अब …