Home » ग़ाज़ीपुर » अफजाल अंसारी ने किया मोदी और योगी को चैलेंज: दम है तो शराब व मांस बंदी का लाये सदन में विधेयक

अफजाल अंसारी ने किया मोदी और योगी को चैलेंज: दम है तो शराब व मांस बंदी का लाये सदन में विधेयक

गाजीपुर। बसपा के वरिष्‍ठ नेता अफजाल अंसारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को चैलेंज देते हुए कहा कि अगर उनके अंदर दम है तो पूरे देश-प्रदेश में मांस बंदी और शराब बंदी का विधेयक सदन में लायें। सबसे पहले मैं उसका समर्थन करुंगा। गौ मांस के नाम पर योगी सरकार केवल मुसलमानों का उत्‍पीड़न कर रही है। मांस व्‍यापार पर हाईकोर्ट ने भी सरकार तीखी टिप्‍पणी किया है। शराब व्‍यवसाईयों को बढ़ावा देने के लिए योगी सरकार ने प्रदेश के 65 स्‍टेट हाई-वे को जिले स्‍तर का सड़क घोषित कर दिया है। जिससे शराब व्‍यवसायियों को बढ़ावा मिल सके। सोमवार को पत्रकार वार्ता में श्री अंसारी ने कहा कि अपने तीन वर्ष के कार्यकाल में मोदी सरकार और 50 दिन के कार्यकाल में योगी सरकार पूरी तरह से फेल है। विकास के नाम पर केवल ढिंढोरा पीटा जा रहा है। विकास कार्य की जमीनी हकीकत शून्‍य है। मुद्दों से भटकाने के लिए तीन तलाक, गौ मांस का मुद्दा उछाला जाता है। कानून व्‍यवस्था पर योगी सरकार ने अखिलेश सरकार को भी पीछे छोड़ दिया है। थानों पर बवालियों का कब्‍जा हो गया है। सहारनपुर, संभल आदि दंगे इस बात के प्रतीक है कि योगी सरकार पूरी तरह से फेल है। मोदी और योगी ने अपने कार्यकर्ताओं को खुली छूट दे रखी है। बवालियों के उत्‍पीड़न से छोटे से लेकर बड़े अधिकारी डरे हुए हैं। बनारस में थाने के बगल में ही दिनदहाड़े दस करोड़ की डकैती हो जाती है। पूरे प्रदेश में हत्‍या, लूट और बलात्‍कार की घटनायें बढ़ी हैं। किसानों के कर्ज माफी के बारे में अखिलेश और योगी दोनों ने किसानों को धोखा दिया है। योगी सरकार ने केवल फसली ऋण माफी की घोषणा करके अपनी पीठ खुद थप‍थपा रही है। जबकि वास्‍तविकता यह है कि पूरे प्रदेश में किसी भी किसान का अ‍बतक कोई भी ऋण माफ नही हुआ है। यूपी में 15 जून तक गड्ढ़ा मुक्‍त सड़के होने का दावा मुंगेरी लाल के सपने के समान है। अभी तक केवल गोरखपुर में ही कार्य शुरु हुआ है। जबकि अन्‍य जनपदों में कोई कार्य नही हुआ है। गड्ढा मुक्‍त सडक करने का जो रेट सरकार ने तय किया है उस रेट में सड़कों का गड्ढा मुक्‍त होना प्रश्‍नवाचक चिह्न लगता है। बिजली व्‍यवस्‍था में भी योगी सरकार पूरी तरह से फेल है। पूरे प्रदेश में भ्रष्‍टाचार चरम सीमा पर है, बिना पैसे दिये कोई काम नही हो रहा है। उन्‍होने बताया कि वर्तमान समय में समाजिक सद्भाव को काफी धक्‍का लगा है। तीन तलाक के मुद्दे को उछाल कर सरकार सस्‍ती लोकप्रियता हासिल कर रही है। इस्‍लाम में इंसान को जीने के लिए रास्‍ते बनाये गये हैं। मुसलमान जिसे देश में रहता है उसके कानून को मानता है। लेकिन अपने घर में दीन के बनाने हुए नियम कानून पर अपना घर चलाता है। तलाक को इस्‍लाम में भी गलत बताया गया है। मोबाइल पर या जानबूझ कर तलाक देने के वह भी विरोधी हैं। उन्‍होने कहा कि बसपा स्‍थानीय निकाय का चुनाव अपने सिंबल पर लड़ेगी। श्री अंसारी ने निष्‍कासित बसपा नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर टिप्‍पणी करते हुए कहा कि नसीमुद्दीन को पार्टी से निकाले जाने पर पार्टी पर कोई असर नही पड़ेगा। जो अपने मालिक के साथ विश्‍वासघात करता है वह गद्दार होता है और इस्लाम में गद्दारों का कोई जगह नही है। नसीमुद्दीन ने पार्टी की सुप्रीमो सुश्री मायावती जी का फोन टेप कर, सदस्‍यता शुल्‍क का करोड़ों रुपये गबन कर गद्दारी किया है। इनके निकाले जाने से पार्टी के कर्मठ नेताओं को बढ़ावा मिलेगा जिसका वह पहले उत्‍पीड़न करते थें। इस अवसर पर पार्टी के जिलाध्‍यक्ष रामप्रकाश्‍  गुड्डू, महामंत्री लल्‍लन राजभर, शिवकुमार राय, बलराम पटेल, बीना यादव, सिपाही नेता आदि लोग उपस्थित थे।

About admin

Check Also

चांद दिखा, ईद सोमवार को

गाजीपुर। कड़ी पाबंदियों के साथ एक माह की रोजेदारी का इनाम मिलने का वक्त अब …