Breaking News
Home » ग़ाज़ीपुर » ब्लैकमेलर है नसीमुद्दीन सिद्दीकी- मायावती

ब्लैकमेलर है नसीमुद्दीन सिद्दीकी- मायावती

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो सुश्री मायावती ने गुरुवार की शाम को नसीमुद्दीन सिद्दीकी के पलटवार का काउंटर करते हुए पत्रकार वार्ता में बताया कि नसीमुद्दीन सिद्दीकी ब्‍लैकमेलर है। वह पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश तथा लखलऊ क्षेत्र के बड़े नेताओं का बात टेप कर उनको पार्टी से बाहर निकलवाने की धमकी देकर धनउगाही करता था। इस बात की शिकायत हमे पहले भी मिली थी जो आज उसने सिद्ध कर दिया। नसीमुद्दीन ने पत्रकार वार्ता में जो टेप सुनाया उसमे कांट-छांट किया था। वह कभी भी पार्टी के हितैषी नही थे। बसपा सुप्रीमो ने पत्रकारों को बताया कि मैंने पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश और लखनऊ का प्रभारी बनाया था। इन क्षेत्रों से पार्टी के प्रत्‍याशियों द्वारा इकट्ठा किये गये मेंबरशिप का पैसा पार्टी कार्यालय में जमा कराया जाना था। मैने नसीमुद्दीन से कई बार पैसे का पार्टी कार्यालय में आकर हिसाब-किताब करने के लिए कहा लेकिन वह कोई न कोई बहाना बनाकर टालते रहे। फिर हमे क्षेत्रों से शिकायत मिली कि हमने तो मेंबरशिप का पैसा नसीमुद्दीन सिद्दीकी को दे दिया है। इस पर हमने नसीमुद्दीन सिद्दीकी से सवाल-जवाब किया। चुनाव खत्‍म हो जाने के बाद भी मेंबरशिप के करोड़ों रुपयों का हिसाब-किताब नही दिया। नसीमुद्दीन सिद्दीकी की बसपा में किसी दूसरे मुस्लिम, सवर्ण तथा बैकवर्ड नेताओं को आगे बढ़ने नही दिये। जो लोग मुझसे सीधे जुड़ जाते थे उनपर कोई न कोई आरोप लगाकर पार्टी से निकलवा देते थें। इन्‍ही कारणों से नसीमुद्दीन सिद्दीकी को पार्टी से बाहर का रास्‍ता दिखाना पडा़। सुश्री मायावती ने कहा कि पार्टी के मेंबरशिप के करोडो़ रुपये जो नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने हड़पे थे उसे अपने चमचों के व्‍यापार में लगा दिया। जो बेनामी सम्‍पत्ति के रुप में है। उन्‍होने कहा कि कोई भी छोटा आदमी बड़ा बन सकता है वह मेरे छोटे भाई आनंद पर गलत आरोप लगा रहा है। जबसे मेरा भाई पार्टी का उपाध्‍यक्ष बना है तब से नसीमुद्दीन उनके उपर कोई न कोई आरोप लगा रहे हैं। अंबानी का भी बैंकग्राउंड पहले गरीबी का था। मेरा भाई कभी भी एमपी, एमएलए नही बनेगा। वह पार्टी में निस्‍वार्थ भाव से संगठन के लिए काम करता रहेगा। उन्‍होने कहा कि सतीश मिश्रा के पैरों के धूल के बराबर भी नही हैं नसीमुद्दीन सिद्दीकी। सतीश चंद्र मिश्रा देश के बड़े अधिवक्‍ताओं में से एक है। वह बड़ी ईमानदारी और निष्‍ठा के साथ पार्टी के लिए कार्य करते है। पार्टी का मुकदमा भी नि:शुल्‍क देखते हैं। हमने कभी भी मुस्लिम समाज को गलत नही कहा है।

About admin

Check Also

रामपुत्र लव-कुश के भव्य मंचन से हुआ रामलीला का समापन

गाजीपुर/बाराचंवर पिछले दस दिनों से चल रही रामलीला का रविवार की रात अंतिम दिन रहा, …